बिहार बंद का मिला-जुला असर, जहानाबाद में उपद्रव

Lokdesh Desk

बिहार में अग्निपथ योजना के विरोध में शनिवार को विपक्ष के बंद का मिला-जुला असर दिख रहा है। विरोध के चौथे दिन जहानाबाद के टेहटा बाजार में प्रदर्शनकारियों ने सुबह सात से आठ बजे के बीच पथराव के बाद ट्रक में आग लगा दी। इसके अलावा कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

गोपालगंज जिले में बंद को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। विभिन्न स्थानों पर पुलिस की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। यहां पुलिस कर्मियों के साथ सदर बीडीओ, सीओ और नगर इंस्पेक्टर सुबह से ही तैनात हैं। यहां देररात धारा 144 लागू कर दी गई है।

सहरसा में स्टेशन पर सन्नटा छाया हुआ है। सभी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। जमुई रेलवे स्टेशन पर अभी तक पुलिस बल की तैनाती नहीं की गई है। सारी ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है। जिले में स्थिति सामान्य है।वाहनों का आवागमन जारी है। शेखपुरा में बाजारों में सामान्य स्थित है। दुकानें खुलने लगी हैं। लोग आवश्यक सामान की खरीदारी कर रहे हैं। चाय-पान की दुकानों पर चहल-पहल है।

सीवान जिले के दरौंदा रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल मुस्तैद है। प्रशासन ने हिदायत दी है कि बिना अनुमति के सीवान के किसी भी हिस्से में धरना-प्रदर्शन-जुलूस नहीं निकाल सकते।प्रशासन ने सार्वजनिक जगह पर 5 या 5 से अधिक लोगों को एकत्र होने पर पाबंदी लगा दिया है। सीवान डीएम अमित कुमार पांडे ने बताया कि बिना अनुमति के किसी भी प्रोटेस्ट पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कटिहार रेलवे जंक्शन पर भी धारा 144 के तहत सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। स्टेशन परिसर के बाहर पूर्वी एवं पश्चिमी भाग में दंगाइयों से निपटने के लिए दंडाधिकारी के रूप में अंचलाधिकारी सोनू भगत के साथ दंगा निरोधक दस्ता पुलिस बल को नियुक्त किया गया है। स्टेशन परिसर में दंगा निरोधक दस्ता के साथ रेलवे के हेडक्वार्टर डीएसपी कुमार देवेंद्र बल के साथ सुबह 4:00 बजे से ही मौजूद हैं।

बिहार बंद का सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) ने भी समर्थन किया है। भागलपुर में आधा दर्जन ट्रेनों को रद्द कर दिया है। सुरक्षा को लेकर फायर ब्रिगेड और पुलिस बल स्टेशन पर तैनात है। मुंगेर में बंद का कोई खास असर नहीं है। जिले में एनएच-80 पर भी आवागमन सुबह से ही जारी है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है।

खगड़िया में अफसरों की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन से यात्रियों को हटाया जा रहा है। खगड़िया स्टेशन से गुजरने वाली तीन ट्रेनों को छोड़कर सभी ट्रेन के परिचालन पर रोक है। महानन्दा एक्सप्रेस, अवध-आसाम, सीमांचल एक्सप्रेस आज चलेंगी। बंद का यहां भी कोई खास असर नहीं है।

पूर्णिया में रेलवे जंक्शन पर पुलिस बल को तैनात किया गया है। अभी तक बंद का कोई असर नहीं दिख रहा। स्थिति सामान्य है। पूर्णिया रेलवे जंक्शन पर रेलवे पुलिस और आरपीएफ पूरी तरह मुस्तैद है। जीआरपी के 12 जवान और आरपीएफ के 12 जवान मौजूद हैं।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार देरशाम सरकार ने कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरभंगा और सारण में सोशल नेटवर्किंग साइट और मैसेजिंग सर्विस को दो दिनों के लिए बंद करने का आदेश दिया है।



Mixed effect of Bihar bandh, disturbance in Jehanabad

 बिहार में अग्निपथ योजना के विरोध में शनिवार को विपक्ष के बंद का मिला-जुला असर दिख रहा है। विरोध के चौथे दिन जहानाबाद के टेहटा बाजार में प्रदर्शनकारियों ने सुबह सात से आठ बजे के बीच पथराव के बाद ट्रक में आग लगा दी। इसके अलावा कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

गोपालगंज जिले में बंद को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। विभिन्न स्थानों पर पुलिस की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। यहां पुलिस कर्मियों के साथ सदर बीडीओ, सीओ और नगर इंस्पेक्टर सुबह से ही तैनात हैं। यहां देररात धारा 144 लागू कर दी गई है।



सहरसा में स्टेशन पर सन्नटा छाया हुआ है। सभी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। जमुई रेलवे स्टेशन पर अभी तक पुलिस बल की तैनाती नहीं की गई है। सारी ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है। जिले में स्थिति सामान्य है।वाहनों का आवागमन जारी है। शेखपुरा में बाजारों में सामान्य स्थित है। दुकानें खुलने लगी हैं। लोग आवश्यक सामान की खरीदारी कर रहे हैं। चाय-पान की दुकानों पर चहल-पहल है।

सीवान जिले के दरौंदा रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल मुस्तैद है। प्रशासन ने हिदायत दी है कि बिना अनुमति के सीवान के किसी भी हिस्से में धरना-प्रदर्शन-जुलूस नहीं निकाल सकते।प्रशासन ने सार्वजनिक जगह पर 5 या 5 से अधिक लोगों को एकत्र होने पर पाबंदी लगा दिया है। सीवान डीएम अमित कुमार पांडे ने बताया कि बिना अनुमति के किसी भी प्रोटेस्ट पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कटिहार रेलवे जंक्शन पर भी धारा 144 के तहत सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। स्टेशन परिसर के बाहर पूर्वी एवं पश्चिमी भाग में दंगाइयों से निपटने के लिए दंडाधिकारी के रूप में अंचलाधिकारी सोनू भगत के साथ दंगा निरोधक दस्ता पुलिस बल को नियुक्त किया गया है। स्टेशन परिसर में दंगा निरोधक दस्ता के साथ रेलवे के हेडक्वार्टर डीएसपी कुमार देवेंद्र बल के साथ सुबह 4:00 बजे से ही मौजूद हैं।

बिहार बंद का सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) ने भी समर्थन किया है। भागलपुर में आधा दर्जन ट्रेनों को रद्द कर दिया है। सुरक्षा को लेकर फायर ब्रिगेड और पुलिस बल स्टेशन पर तैनात है। मुंगेर में बंद का कोई खास असर नहीं है। जिले में एनएच-80 पर भी आवागमन सुबह से ही जारी है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है।

खगड़िया में अफसरों की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन से यात्रियों को हटाया जा रहा है। खगड़िया स्टेशन से गुजरने वाली तीन ट्रेनों को छोड़कर सभी ट्रेन के परिचालन पर रोक है। महानन्दा एक्सप्रेस, अवध-आसाम, सीमांचल एक्सप्रेस आज चलेंगी। बंद का यहां भी कोई खास असर नहीं है।

पूर्णिया में रेलवे जंक्शन पर पुलिस बल को तैनात किया गया है। अभी तक बंद का कोई असर नहीं दिख रहा। स्थिति सामान्य है। पूर्णिया रेलवे जंक्शन पर रेलवे पुलिस और आरपीएफ पूरी तरह मुस्तैद है। जीआरपी के 12 जवान और आरपीएफ के 12 जवान मौजूद हैं।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार देरशाम सरकार ने कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरभंगा और सारण में सोशल नेटवर्किंग साइट और मैसेजिंग सर्विस को दो दिनों के लिए बंद करने का आदेश दिया है।



Add Comment