ग्वालियर में भरभराकर ढही पांच मंजिला इमारत, मलबे में दवा मकान मालिक

Lokdesh Desk


ग्वालियर शहर की अस्पताल रोड पर अलंकार होटल के पास स्थित एक पांच मंजिला इमारत सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात अचानक भरभराकर ढह गई। इस हादसे में मकान मालिक मलबे में दब गया था। बताया गया है कि देर देर रात रेस्क्यू कर बाहर निकाला और गंभीर हालत में एक निजा अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसका उपचार जारी है। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।

जानकारी के अनुसार, अलंकार होटल के पास अस्पताल रोड पर डॉ. अलोक नीखरा का पांच मंजिला डायग्नोस्टिक सेंटर है। इसमें दो बेसमेंट भी शामिल हैं। डायग्नोस्टिक सेंटर के पास ही नत्थीलाल बसंल का भवन भी बन रहा है। भवन बनने से पहले तलघर का निर्माण कराया जा रहा था। बताया जाता है कि सोमवार शाम को तलघर में गिट्टी आदि डालकर पानी डाल दिया गया था। यह पानी पास के डायग्नोस्टिक सेंटर के भवन की नींव में चला गया।

बताया गया है कि डॉ. अलोक नीखरा अपने भवन की चौथी मंजिल पर सो रहे थे, तभी रात पौने पौने दो बजे के करीब उनका पांच मंजिला भवन अचानक ढह गया और डॉ. नीखरा भवन के मलबे में दब गए। आसपास के लोगों की सूचना पर पुलिस और निगम की टीमें मौके पर पहुंची और राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। बताया गया है कि कड़ी मशक्कत के बाद डॉ. नीखरा को मलबे से निकाला और उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस व निगम अब मामले की जांच कर रहा है।

बताया जा रहा है कि जब भवन ढहा तब डॉ. अलोक नीखरा भवन में अकेले ही थे। उनकी पत्नी और बच्चे दो दिन पहले ही झांसी गए थे। झांसी में डॉ. नीखरा की ससुराल है। इसलिए ये सभी लोग भवन की चपेट में आने से बच गए।



Add Comment