विजय रथ यात्रा में जनता को साधते अखिलेश, बोले- झांसी के लोग ना आए भाजपा के झांसे में

Lokdesh Desk

यूपी में डबल इंजन की सरकार को घेरने की तैयारी  सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बखूबी कर रहे हैं।  बुंदेलखंड में अपने दूसरे चरण के विजय रथ यात्रा के लिए निकले पूर्व मुख्यमंत्री व सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश की भाजपा सरकार को जमकर कोसा। योगी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि झांसी के लोगों को भाजपा के झांसे में नहीं आना चाहिए। वह विजय रथ यात्रा को झांसी से मोठ ले जाने के ठीक पहले एक स्थानीय होटल में पत्रकारों से मुखातिब हो रहे थे।

उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने लोगों को झांसा देकर बुन्देलखण्ड की पूरी 19 विधानसभा में सभी विधायक अपने बनाए। लोकसभा में सारे सांसद भी अपने बनाए, लेकिन बुंदेलखंड के लिए कुछ नहीं किया। अब लोग भी इस बार उनका एक भी विधायक नहीं बनने देंगे। 19 की संख्या 0 में परिवर्तित हो जाएगी। बुंदेलखंड से भाजपा के लिए दरवाजा बंद कर दिया जाएगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के समय संकट में नौजवान और व्यापारियों समेत हर वर्ग को भाजपा ने दुखी किया है। उन्होंने कहा कि लोग पैदल घर पहुंचे। एक गर्भवती महिला को सड़क पर अपने बच्चे को जन्म देना पड़ा था। लोग एक-एक हफ्ते तक भूखे प्यासे पड़े रहे। जब लोगों का आक्रोश भड़का और बैरिकेड तोड़कर वह निकल गए। तब अपने घर पहुंच सके। सरकार ने लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया। बहुत सारे मजदूरों की जान चली गई। उन सब मजदूरों को एक-एक लाख देने का काम समाजवादियों ने किया।

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि परिवार वालों का दुख केवल परिवार वाले लोग ही समझ सकते हैं। जिनका परिवार में कोई हो ही नहीं वह भला लोगों का दुख क्या जानें? उन्होंने कहा यह सरकार लाइन लगाती है। झांसी वाले लोग भाजपा के बहकावे में न आएं। उनके झांसे में आकर अबकी बार उनकी सरकार कदापि न बनवाएं।

भाजपा का हाल अंग्रेजों से ही बुरा है : अखिलेश 
सपा अध्यक्ष ने कहा कि  जिस प्रकार महारानी लक्ष्मीबाई ने अंग्रेजों को भारत से खदेड़ने का कार्य किया था उसी प्रकार इस बार झांसी की जनता भाजपा को खदेड़ देने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा का हाल तो अंग्रेजों से भी बुरा है। किसानों को जीप से कुचल दिया, क्या उन आरोपों पर कोई कार्यवाही अभी तक हुई है।
 
इस अवसर पर सपा से भारतीय जनता पार्टी में पहुंचे सतीश जतारिया ने अपनी घर वापसी करते हुए एक बार फिर सपा का दामन थाम लिया। वहीं कांग्रेस की पूर्व मंत्री बैनी बाई के सुपुत्र भी कांग्रेस में जा मिले।

Add Comment